अंतरिक्ष के रहस्य - Mystery Of Space In Hindi

दोस्तों आपको अंतरिक्ष के रहस्य - Mystery of space के बारे में कुछ ना कुछ जानने की दिलचस्पी हमेशा से रही होगी की, अंतरिक्ष में ऐसा क्या है, अंतरिक्ष कैसा है और भी कुछ रहस्य। हमारे पृथ्वी के बाहर का जो वातावरण है, हम पृथ्वी से आसमान की ओर देखते है तो हमे बहुत से तारे दिखाई देते है उसे ही अंतरिक्ष कहते है।

अंतरिक्ष की तस्वीरे तो हमने देखी होगी और किताब में भी हमने पढ़ा है की अंतरिक्ष के अंदर बहुत से तारे है और पृथ्वी के जैसे ग्रह भी है जो अपनी परिक्रमाएं करते रहते हैं| अंतरिक्ष का नाम सुनते ही एक अनोखा नज़ारा हमारे सामने आता है जैसे की, सूरज, चाँद, तारे ये सब हमे कितना अच्छा लगता है। 

पर दोस्तों अंतरिक्ष के अंदर ऐसी बहुत सी डरावनी घटनाएँ होती रहती है जो हम उन बातों से अंजान रहते है। तो आज हम इस पोस्ट में इन सभी रहस्य के बारे में और कुछ अंतरिक्ष की रोचक बाते जानेंगे।

अंतरिक्ष के रहस्य, mystery of space in hindi, space mystery in hindi, antriksh ke rahasya, antriksh ka rahasya, अंतरिक्ष का रहस्य, अनसुलझे रोचक रहस्य, धरती के अनसुलझे रहस्य, antriksh ki photo,

संस्कृत और वैदिक साहित्य में अंतरिक्ष शब्द का प्रयोग कई बार हुआ है जहाँ से हिन्दी का शब्द और अर्थ लिया है। हालांकि वैदिक साहित्य में अंतरिक्ष का अर्थ पृथ्वी और द्युलोक, यानि तारे और सूरज, प्रकाश मान, पिंड के मध्य की चीज़ों को अंतरिक्ष कहते हैं। 

हमें अंतरिक्ष शब्द का प्रयोग वेदों में बहुत सी जगह पर और पृथ्वी के साथ देखने को मिलता है। इस परिभाषा के अनुसार अंतरिक्ष में धरती के वायुमंडल को भी शामिल कर सकते हैं। वास्तव में अंतरिक्ष इतना बड़ा है कि हम इसकी और इसके रहस्य की कल्पना भी नहीं कर सकते।

अंतरिक्ष के बारे मे रोचक तथ्य - Facts about Space In Hindi

1. दोस्तों हमे पृथ्वी से आसमान नीला रंग का दिखाई देता है परंतु वहा के अंतरिक्ष यात्रियों को आसमान काला दीखता है और अंतरिक्ष से सूर्य काला दिखाई देता है।

2. अंतरिक्ष में वैल्डिंग के धुएँ और गर्म धातु जैसी बदबू आती है।

3. अंतरिक्ष में आप जोर से चिल्लायेंगे तो भी वहा पे आपकी आवाज़ कोई नही सुनेगा क्यो कि, वहा पे ऐसा कोई माध्यम ही नही है की एक जगह से दूसरी जगह तक आपकी आवाज़ को पहुंचा सके।

4. अंतरिक्ष सूट को बनाने के लिए लगभग 12 मिलियन डॉलर खर्च होते है और आप इस स्पेस सूट को पहनकर सिटी नही मार सकते क्योंकि इसमे हवा का प्रेशर कम होता है। 

5. अंतरिक्ष में गुरुत्वाकर्षण कम होता है जिसकी वजह से वहा जाने वाले हर व्यक्ति को बहुत कमज़ोरी आती है। इस कमज़ोरी से बाहर निकलने के लिए एक यात्री को 2-3 दिन लग सकते है। 

6. अंतरिक्ष में गुरुत्वाकर्षण कम होने कारण इंसान के रीढ़ की हड्डी पृथ्वी पर होने वाले खिंचाव से मुक्त हो जाती है और ऐसे में वो अपनी रीढ़ की हड्डी को सीधा करता है तो उसकी हाईट 3 इंच तक बढ़ती है। 

7. अंतरिक्ष यात्री भोजन में नमक या मिर्च नहीं ले सकते क्योंकि सूखे भोजन हवा में तैरने लगेंगे और इधर उधर टकराने से उनकी आँखों में भी जा सकता है इसलिए वे द्रव्य के रूप में ही भोजन लेते है।

8. अगर आप अंतरिक्ष में धातु के दो टुकड़े करके एक दूसरे को स्पर्श कर लेंगे तो वह स्थायी रूप से जुड़ जाते हैं।

9. अमेरिका ने 1962 में अंतरिक्ष में हाइड्रोजन बम विस्फोट किया था की जो जपान के हिरोशिमा पर गिराए गए बम से भी 100 गुना शक्तिशाली था।

10. अंतरिक्ष यान में अंतरिक्ष यात्री को सोने के लिए बहुत मेहनत करनी पड़ती है उनको आंखों पर पट्टी बांध कर एक बंक में सोना होता है क्योंकि वो तैरने और इधर-उधर टकराने से बच सकेंगे।

11. चीन में वायु प्रदूषण ज्यादा होने कारण ‘The Great Wall Of China’ यह अंतरिक्ष से देखने पर भी नजर नही आती।

12. हमारे International Space Station का आकार फुटबॉल के मैदान जितना होता है।

13. 1966 में अंतरिक्ष में पहली सेल्फी "बज एल्ड्रिन" द्वारा निकली गई थी जिसकी कीमत आज लगभग 6 से 7 लाख रूपये है।

14. अंतरिक्ष यात्रियों के लिए 3D पिज्जा विकसित करने के लिए NASA कोशिश कर रही है।

15. किसी अंतरिक्ष वाहन या यान को वायुमंडल से बाहर निकालने के लिए कम से कम 6 से 7 मील प्रति सेकंड गति की आवश्यकता होती हैं।

ये भी पढ़े:
1. चाँद के बारेमे अदभुत तथ्य
2. रहस्यमय मंगल ग्रह के अनसुलझे राज
3. हमारे सौरमंडल के ग्रहों की जानकारी

तो उम्मीद करते है दोस्तों की आपको अंतरिक्ष के रहस्य, Mystery Of Space In Hindi और अंतरिक्ष की कुछ रोचक बातो के बारे में काफी कुछ जानकारी मिली होगी। दोस्तों, इस पोस्ट के बारे में कुछ ओर जानकारी मिले तो हमे नीचे दिए गये comments box में comment करके बता सकते है।

4 comments: